शनिवार, 6 दिसंबर 2014

'लौटा नहीं था महमूद गजनवी' -------नरेश सक्सेना


इतिहास के बहुत से झूठों में
एक  यह  भी  है
कि  महमूद गजनवी लौट गया था.
लौटा  नहीं  था  महमूद  गजनवी
सैंकड़ों बरस यहीं रहकर
वह प्रकट हुआ अयोध्या में
सोमनाथ में
उसने किया था
अल्लाह का काम तमाम
अब की बार उसका नारा था
''जय श्री राम''
                    -------नरेश सक्सेना 

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें