मंगलवार, 5 अप्रैल 2016



कुछ लोग बड़ी मेहनत से कविता बुनते हैं 
कपड़ा बुन लेते नंगे का तन ढक जाता है .


0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें