बुधवार, 14 दिसंबर 2016

रामचंद्र कह गए सिया से एक दिन मोदी आएगा
खाते में पैसा होगा पर कैश नहीं मिल पायेगा .   

हेल्प लेस अफसर हुए, कैश लेस सब बैंक्स 
कहते भक्त कमाल है मोदी जी को थैंक्स .

जिसके घर गृहस्थी नहीं उसको न कोई गम 
वो चाहे फिर भक्त हो या हो खुद पी एम.


पंक्ति में हम खड़े रहें, कैश रहे न शेष 
घर की है हालत बुरी, होता रोज क्लेश .




0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें