सोमवार, 15 मई 2017

उस के चेहरे पे नूर ज्यादा है 
उस को इसका गरूर ज्यादा है .

हमने आँखों से पी थी मय थोड़ी 
हम को अब तक सरूर ज्यादा है . 

कोई बंदा तलाश कर लाओ 
मेरी जानिब हजूर ज्यादा हैं .


0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें