रविवार, 10 सितंबर 2017

'मधुर' बहुत बकता रहता तुम चुप हो जाओ |

बड़ी भयानक घटना है,तुम चुप हो जाओ 
बेदर्दी से मार दिया, तुम चुप हो जाओ  |

चौराहे पर छेड़ रहे लड़की को शोहदे 
लोग बचा लेंगे उसको तुम चुप हो जाओ |

शौर पडौसी के घर में गुन्ड़ें घुस आये 
नहीं अभी कुछ सुनो अभी तुम चुप हो जाओ |

जब ऐसा हो साथ तुम्हारे तब तुम कहना 
किस्मत में ये लिखा हुआ,तुम चुप हो जाओ |


एक दिन चौराहे पर मारा जायेगा ये 
'मधुर' बहुत बकता रहता तुम चुप हो जाओ |




0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें